cecil-lion-documentary-in-hindiA closeup shot of a powerful lion laying on the ground

Cecil Lion Documentary In Hindi | Cecil Lion Story | इस शेर की कहानी रुला देगी

cecil-lion-documentary-in-hindi
A closeup shot of a lion laying on a dry grassy field while looking towards the camera with a blurred background

वाले शावक का नाम था Cecil Lion और उससे छोटे मगर उससे थोड़ी कम ताकत रखने वाले शावक का नाम था लैंड। दोनों ही शावक अपने झुण्ड में सबकी जान थे। एक दूसरे के साथ भी इन दोनों शावकों का प्यार अनमोल था। Cecil Lion और लेंडर दोनों एक दूसरे के साथ दिनभर मस्ती करते और जमकर भागदौड़ मचाते। बाबी बच्चे थे और आसानी से किसी भी जंगली जानवर का शिकार बन सकते थे। इसलिए झुण्ड का राजा और उन दोनों शावकों के पिता उन्हें संरक्षित रखते थे। हालांकि Cecil Lion की ताकत बचपन में भी देखने लायक थी। धीरे धीरे Cecil Lion और लैंड बड़े हो रहे थे। जितने ये दोनों बड़े हो रहे थे। दोनों के बीच का प्यार ताकत बढ़ती जा रही थी। खास तौर पर Cecil Lion की ताकत की कोई सीमा नहीं थी। Cecil Lion झुण्ड का अगला राजा बनता क्योंकि सिर्फ उसमें झुण्ड की हिफाजत करने और दुश्मनों को पटकने की ताकत थी। सेसिल की बढ़ती ताकत देखकर सेसिल के पिता को गद्दी छिन जाने का डर सताने लगा। जैसा कि हमने पहले ही बताया था, शेरों के झुण्ड में सिर्फ एक ही सरदार होता है और प्राइड के मुखिया सेसिल के पिता थे। लेकिन जब उन्हें या तो दूसरे नंबर पर आना पड़ेगा या फिर प्राइड छोड़कर जाना पड़ेगा। प्राइड में अपनी सत्ता न छिन जाए इसलिए सेसिल के पिता ने एक दिन वही किया। हर शेर जो अपने प्राइड में करता है। सेसिल के पिता ने सेसिल के साथ लड़ाई शुरू कर दी। सेसिल नौजवान था, ताकतवर था मगर अभी वह इतना शक्तिशाली नहीं बन पाया था कि अपने पिता का सामना कर सके। आखिर में सेसिल अपने पिता से जंग हार गया और उसे प्राइड छोड़कर

जाना पड़ा। लेकिन सेसिल अकेला ही प्राइड छोड़कर नहीं गया बल्कि बचपन से उसका यार उसका साथी बनकर रहा। उसका छोटा भाई उसके साथ प्राइड छोड़कर चला गया। सेसिल और लेंडर अभी नौजवान थे और उन्हें स्वीकार करने में कुछ दिक्कतें आती थी। बड़ी भैंसों का शिकार करना फिलहाल उनके बस में नहीं था और इम्पाला बहुत तेजी से दौड़ती हैं, जो उनके हाथों में नहीं आती थी। सेसिल और लेंडर के आगे का जीवन काफी मुश्किल हो रहा था। बिना शिकार किए उन्हें खाना नहीं मिलता और इस तरह से वे एक हफ्ते तक बिना खाना खाए ही रहे। सेसिल थोड़ा बहुत शिकार जानता था और लेंडर बड़े भाई के शिकार में मदद करता था। एक हफ्ते तक खाने को तरसने के बाद दोनों ही भाइयों ने आर पार की लड़ाई करने की सोची और भैंसों के झुण्ड पर चुपके से हमला कर दिया। यह चालाकी भरा आइडिया बिल्कुल कारगर साबित हुआ। आखिरकार एक हफ्ते बाद सेसिल और लेंडर को उनका पहला शिकार भैंस के बछड़े के रूप में मिला, जो इस भगदड़ में अलग रह गया था। जिसे सेसिल और लेंडर ने अपना शिकार बनाया। इसके बाद ये दोनों भाई इसी तरह की चाल चलते और भैंसों का शिकार करते। इस तरह से धीरे धीरे दोनों भाई बड़े और व्यस्क शेर बन चुके थे। सेसिल की ताकत 10 गुना बढ़ चुकी थी। उसका लंबा और तगड़ा शरीर और चेहरे पर काले रंग के घने बाल उसकी सुन्दरता को और बढ़ा रहे थे। अब सेसिल और लेंडर ने अपने खुद की प्राइड बनाने की सोची और वांग नेशनल पार्क में पहले से मौजूद एक प्राइड पर हमला कर दिया। प्राइड का राजा एक बूढ़ा शेर था जिसे हराने में सेसिल

और लैंडर को ज्यादा मुश्किल नहीं आई। सेसिल ने उस बूढ़े शेर पर अपने धारधार पंजों से हमला किया। प्राइड में मौजूद उस बूढ़े शेर की मादाओं ने भी सहायता नहीं की। शायद वह भी चाहती थी कि प्राइड को कोई नौजवान शेर संभाले क्योंकि बूढ़े शेर के बस में प्राइड की रक्षा करना नहीं रह गया था। सेसिल और लेंडर के आगे आखिरकार उस बूढ़े शेर ने घुटने टेक दिए और इस तरह सेसिल और लैंडर ने अपनी प्राइड बनाई। कुछ दिनों में प्राइड की मादाओं ने सेसिल और लैंडर के शावकों को जन्म दिया। सेसिल और लैंडर अपनी प्राइड के लिए शिकार करते और जाबांज तरीके से जंगल में अपनी हुकूमत का डंका बजाते। लैंडर और सेसिल दोनों ही भाई एक दूसरे पर जान लुटाते थे। एक दिन सेसिल और लैंडर के प्राइड पर बाहर से आए तीन शेरों ने हमला कर दिया। इनमें से एक शेर का नाम जैरिको था। जैरिको और उसके भाई के साथ सेसिल ने। पूरी ताकत से जंग लड़ी। एक तरफ सेसिल का मुकाबला जैरिको के साथ था तो वहीं लैंडर पर जेरिको के दोनों भाइयों ने हमला कर दिया था। सेसिल की ताकत के सामने जेरिको की भी कोई औकात नहीं थी। मगर अपने छोटे भाई को घायल और ध्वस्त होता देख सेसिल भी कमजोर पड़ गया था। सेसिल ने जेरिको को एक जोर की पटकनी दी और वह जमीन पर धराशायी हो गया। जेरिको के जमीन पर गिरते ही सेसिल अपने भाई लैंडर की तरफ भागा, मगर तब तक बहुत देर हो चुकी थी। जेरिको को दोनों भाइयों ने मिलकर लैंडर को बुरी तरह से जख्मी कर दिया था। दो शेरों का एक साथ लैंडर मुकाबला नहीं कर सकता था। अपने

जान से प्यारे भाई सेसिल का बीच रास्ते में साथ छोड़ दिया। बचपन से एक साथ रहने वाले इन दोनों भाइयों की जोड़ी टूट गई। सेसिल इतना शक्तिशाली था कि जेरिको और उसके दोनों भाइयों का एक साथ मुकाबला कर सकता था। मगर जान से प्यारे छोटे भाई की मौत ने उसे कमजोर कर दिया। और आखिरकार सेसिल ने अपनी हार स्वीकार कर ली और वह प्राइड छोड़ कर चला गया। जब प्राइड पर जेरिको और उसके भाइयों का राज था। जेरिको और उसके भाइयों ने सबसे पहले प्राइड के शावकों को अपना शिकार बनाया ताकि सेसिल और लैंडर की कोई नस्ल ना रहे। कुछ दिन बाद, वांग नेशनल पार्क में अवैध शिकारियों ने जेरिको के दोनों भाइयों को अपना शिकार बना लिया। अपने भाई की मौत से आहत होकर जेरिको ने भी प्राइड छोड़ दी। बहुत दिनों तक प्राइड की रखवाली मादाओं ने की और कोई अन्य शेर भी प्राइड पर कब्जा जमाने के लिए नहीं आया। बहुत दिन ऐसे बिना किसी राजा के प्राइड सर्वाइव करता रहा, लेकिन एक दिन ऐसा चमत्कार हुआ जिसकी किसी ने कल्पना नहीं की थी। एक खूंखार और ताकतवर शेर जिसके काले घने बाल लहरा रहे थे, प्राइड की ओर चला आ रहा था। वह कोई और नहीं बल्कि सेसिल था। यह चमत्कार ही था कि राजा अपनी प्रजा में एक बार फिर से राज करने आया था। लेकिन सेसिल अकेला नहीं था बल्कि उसके साथ जैरिको भी था। जैरिको सेसिल का सबसे बड़ा दुश्मन। मगर अपने भाइयों को खोने के दुख में दोनों ने एक दूसरे का सहारा लिया और दुश्मन से पक्के दोस्त हो गए। अब जैरिको ने सेसिल को प्राइड का राजा मान लिया था। एक बार फिर से

What is the story of Cecil lion?

The story of Cecil Lion the captain is a poignant and well- known tale of a cherished African captain that gained transnational attention due to his woeful fate. Cecil Lion was a magnific and iconic figure in Hwange National Park, Zimbabwe. Then is the story of Cecil Lion, with the focus keyword” Cecil Lion” used throughout

Cecil Lion, named after the British imperialist Cecil Rhodes, was a deified symbol of African wildlife. He was a magnific and striking black- maned captain, who floated the vast and graphic geographies of Hwange National Park. Cecil Lion’s emotional presence and regal address charmed both callers and wildlife suckers who crowded to the demesne to catch a regard of this remarkable critter.

still, Cecil Lion’s fate took a woeful turn in July 2015 when he was immorally hunted and killed by an American dentist, Walter Palmer, during a jewel stalking passage. The payoff of Cecil Lion sparked outrage and commination worldwide, as people learned of this senseless act of atrocity.

Cecil Lion’s death came a catalyst for conversations on wildlife conservation and the critical need to cover exposed species. The incident exfoliate light on the broader issue of jewel hunting and coddling, emphasizing the significance of conserving the territories and lives of magnific creatures like Cecil Lion.

In the wake of this tragedy, conservation sweats and mindfulness juggernauts gained instigation, with numerous individualities and associations devoted to recognizing Cecil Lion’s memory by supporting wildlife conservation enterprise. Cecil Lion’s heritage serves as a memorial of the critical part we all play in securing the future of these inconceivable brutes and their natural territories.

The story of Cecil Lion is a testament to the power of a single majestic beast to unite people worldwide in their determination to cover and save the world’s most iconic and vulnerable wildlife.
[sp_easyaccordion id=”458″]

प्राइड पर सेसिल का राज स्थापित हो गया। जैरिको और सेसिल एक साथ शिकार करते और अपनी मादाओं के लिए भोजन लाते। कुछ ही दिनों में जैरिको और सेसिल के शावकों ने भी जन्म लिया। सबकुछ सही चल रहा था मगर फिर वांग नेशनल पार्क के इतिहास का काला दिन भी आया जिसने इस पार्क के सबसे जाबाज योद्धा को ऐसी मौत दी जिससे यह योद्धा डिजर्व नहीं करता था। अमेरिका के पेशेवर शिकारी ने सेसिल का शिकार कर लिया। उसके शिकार करने के बाद एक बार फिर से जैरिको अकेला पड़ गया और भाई समान दोस्त सेसिल को खो दिया। वांग नेशनल पार्क का सबसे खूंखार शिकारी जानवर था सेसिल जिसको छुपकर मार गिराया गया। पहले सेसिल को अपने प्राइड और जैरिको से दूर ले जाया गया और फिर तीर से उसे घायल करके उसका शिकार किया गया। प्राइड से सेसिल के गायब होने के बाद जैरी को हर तरफ अपने भाई जैसे दोस्त सेसिल को ढूंढता रहा। कुछ दिन बाद सेसिल के साथ अमेरिकी शिकारी ने एक तस्वीर इंटरनेट पर साझा की। लिखा, आज मैंने अफ्रीका के सबसे खूंखार शिकारी को मार गिराया। दोस्तो, आपको बता दें कि सेसिल की मौत की खबरें जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल हुई हर जगह शिकारियों के खिलाफ धरना प्रदर्शन शुरू हो गया। उनको गिरफ्तार करने की मांग उठने लगी। शिकारियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार भी कर लिया गया। मगर हाई कोर्ट ने उन्हें बाइज्जत बरी कर दिया क्योंकि वह प्रोफेशनल शिकारी थे, जिन्होंने जिंबाब्वे की सरकार से शेरों का शिकार करने के लिए परमिट लिया था और बदले में जिंबाब्वे की सरकार को 50,000 डॉलर दिए थे। आपको बता दें कि जिम्बाब्वे की सरकार शिकारियों को इस तरह का शिकार कर ने की अनुमति देती है। जिम्बाम्वे के आधे से ज्याद आय इसी से होती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *